टी20 में संजू सैमसन और ऋषभ पंत में कौन है बेहतर विकेटकीपर? आंकड़े इस खिलाड़ी की तरफ कर रहे इशारा

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

सोमवार को भारतीय क्रिकेट का टी20 विश्वकप के लिए टीम के लिए एलान किया गया। इसमें कई सारे खिलाडियों को मौका दिया गया। वहीं अगले महीने भारत को ऑस्ट्रेलिया की पिच पर ये मैच खेलने है। आईपीएल में संजू सैमसन ने डेब्यू 14 अप्रैल 2013 को पंजाब के खिलाफ किया था तो वहीं ऋषभ पंत ने 2016 में गुजरात लायंस के खिलाफ अपना पहला आईपीएल मैच खेला था। संजू ने 138 आईपीएल मुकाबलों में 29.14 की औसत से 3526 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 135.72 का रहा। इस दौरान संजू के बल्ले से तीन शतक और 17 अर्धशतक भी निकले, साथ ही आईपीएल में उनका हाईएस्ट स्कोर 119 रन है।

इसके उलट ऋषभ पंत ने आईपीएल में 98 टी-20 मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 34.61 की औसत से 2838 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 147.97 का रहा, आईपीएल में पंत का हाईएस्ट स्कोर 128 रन है। साथ ही उन्होंने 1 शतक और 15 अर्धशतक आईपीएल में लगाए हैं।

टी-20 इंटरनेशनल के आंकड़े:

अंतरराष्ट्रीय T20 क्रिकेट मैच संजू सैमसन ने 19 जुलाई 2015 को जिंबाब्वे के खिलाफ T20 डेब्यू कर लिया था। तब से लेकर अब तक अपने 7 साल के टी20 क्रिकेट में वह टीम इंडिया के लिए कुल 16 टी-20 मुकाबले खेल चुके हैं जिसमें उन्होंने 21.14 की औसत से 296 रन बनाए हैं। इस दौरान संजू का स्ट्राइक रेट 135.16 का रहा वहीं इंटरनेशनल क्रिकेट में संजू का हाईएस्ट स्कोर 77 रन है।

वहीं दूसरी तरफ ऋषभ पंत ने फरवरी 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 डेब्यू किया था और तब से लेकर अब तक वह टीम इंडिया के लिए 58 टी20 मुकाबले खेल चुके हैं। जिसमें उन्होंने 23.95 की औसत से 934 रन बनाए हैं, इस दौरान पंत का स्ट्राइक रेट 126.39 का रहा। इसके अलावा तीन अर्धशतक भी पंत ने टी-20 क्रिकेट में लगाए हैं जबकि 65 रन उनका इस फॉर्मेट में हाईएस्ट स्कोर है।

इन आंकड़ों से साफ जाहिर होता है की T20 क्रिकेट में दोनों ही बल्लेबाज एक दूसरे के प्रतिद्वंद्वी नजर आते हैं। वहीं T20 इंटरनेशनल में संजू पंत से बेहतर स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हैं जो क्रीज पर आते ही तेजी से बड़े-बड़े हिट लगा सकते हैं। वहीं भारतीय क्रिकेट इतिहास में संजू सैमसन को अब तक का सबसे बदनसीब खिलाड़ी कहें तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। वह अपने 7 साल के करियर में मात्र 16 T20 मुकाबला खेल पाए हैं जबकि पंत को 58 मौके मिले हैं। अगर इतने मौके संजू सैमसन को मिलते तो शायद यह आंकड़े कुछ और ही होते..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *