VIDEO: ‘विराट भैया मुझे बोलते रहिएगा, वर्ना मैं उड़ा दूंगा…’ जानें क्यों ईशान ने कोहली से यह बात कही थी

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

News Desk : क्या ईशान किशन बांग्लादेश के खिलाफ तीसरे और आखिरी वनडे में 190 पर पहुंचने के बाद नर्वस थे? विराट कोहली ने उनसे क्या कहा था? जब ईशान अपने दोहरे शतक के करीब पहुंच गए थे, तब बार-बार कोहली से एक बात दोहराने के लिए कह रहे थे? वो क्या थी. इन सभी सवालों का जवाब खुद ईशान किशन ने अपने साथी खिलाड़ी शुभमन गिल को मैच के बाद दिए खास इंटरव्यू में दिया. ईशान ने बांग्लादेश के खिलाफ चट्टोग्राम में हुए तीसरे वनडे में महज 126 गेंद में अपना दोहरा शतक पूरा किया था. यह वनडे इतिहास की सबसे तेज डबल सेंचुरी है. साथ ही वह सबसे कम उम्र में दोहरा शतक जड़ने वाले खिलाड़ी भी बने.

ईशान किशन से शुभमन ने पूछा कि आपने अपने पहले शतक को ही दोहरे शतक में तब्दील कर दिया. इसे लेकर कैसे महसूस कर रहे हैं. इस पर ईशान ने कहा, ‘जाहिर है बहुत अच्छा लग रहा है. सचिन पाजी, वीरू पाजी और रोहित भाई जैसे दिग्गजों के साथ नाम आने पर. मुझे लगता है कि मैं और डबल हंड्रेड जड़ सकता हूं.

नेट सेशन में प्रैक्टिस का फायदा मिला: ईशान
बांग्लादेश के खिलाफ तीसरे वनडे में रोहित शर्मा के चोटिल होने की वजह से ईशान किशन को मौका मिला था और वो मैच शुरू होने से पहले भी प्रैक्टिस के लिए पहुंचे थे. जब शुभमन गिल ने इसे लेकर उनसे सवाल पूछा तो इस विकेटकीपर बैटर ने बताया, ‘मैं नेट सेशन में प्रैक्टिस कर रहा था. पिछले दोनों मैच में भी मैंने नेट्स पर काफी प्रैक्टिस की थी. लेकिन, वहां प्रैक्टिस विकेट अच्छे नहीं थे. तो मुझे लगा कि थोड़ी प्रैक्टिस कर लेता हूं. क्योंकि बाकी खिलाड़ी भी नेट्स पर काफी मेहनत कर रहे थे. इसी वजह से मैंने मैच से पहले अभ्यास किया. सूर्या भाई भी टी20 विश्व कप में ऐसे ही कर रहे थे और उन्हें इसका फायदा मिला था. मैंने भी ऐसा ही किया और दोहरा शतक जड़ दिया.’

विराट भैया बार-बार समझा रहे थे’
शुभमन गिल से बातचीत करते हुए किशन ने खुलासा किया कि जब वह दोहरे शतक के करीब थे, तो विराट कोहली से उनकी क्या बातचीत हुई. किशन ने बताया, मैं जब दोहरे शतक के करीब था, तो मैंने विराट भैया से कहा था कि आप प्लीज मुझे बोलते रहिएगा सिंगल लेने के लिए, नहीं तो मैं गेंद को उड़ा दूंगा…अंदर से मेरा मन बार-बार छक्का मारकर 200 रन पूरे करने का हो रहा है. विराट भैया ने ऐसा ही किया और वो बार-बार नॉन स्ट्राइकर एंड से मुझे उंगली के इशारे से 1 रन लेते के लिए बोलते रहे और ऐसे मेरा दोहरा शतक पूरा हुआ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *