“दुकान पर न टीवी है और ना ही…” सैलून के चलते अपने बेटे कुलदीप सेन का डेब्यू नही देख पाए उनके पिता!

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

भारत और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मैच रविवार को शेरे-ए-बांगला स्टेडियम, ढाका में खेला गया। बांग्लादेश ने इस मुकाबले में टॉस जीतकर में भारत को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया। टॉस हारकर पहले खेलते हुए भारतीय टीम 41.2 ओवर में सिर्फ 186 रन बनाकर पवेलियन लौट गई। जवाब में बांग्लादेश ने लक्ष्य को 46 ओवर में 9 विकेट पर हासिल कर लिया। टीम इंडिया भले ही यह मैच हार गई हो, लेकिन युवा तेज गेंदबाज कुलदीप सेन ने अपने प्रदर्शन से गहरी छाप छोड़ी।

कुलदीप सेन ने अपने डेब्यू मैच में ही दो विकेट झटके। उन्होंने 5 ओवर फेंके और 37 रन देके 2 विकेट चटका डाले। कुलदीप सेन ने टीम इंडिया में खेलने के लिए काफी पापड़ बेले हैं। एक समय ऐसा था जब इस खिलाड़ी के पास स्टेट लेवल टूर्नामेंट खेलने के लिए किराया भी नहीं था। बचपन में यह तेज गेंदबाज अपने मोजे की गेंद बनाकर अभ्यास करता था। बता दें की कुलदीप के पिता रामपाल रीवा के सिरमौर चौराहे पर हेयर कटिंग सैलून चलाते हैं।

कुलदीप सेन के पिता ने ही नही देखा उनका मैच

बांग्लादेश के खिलाफ अपने पहले वनडे में तेज गेंदबाज कुलदीप सेन ने शानदार प्रदर्शन किया। हालांकि, बेटे के इस प्रदर्शन को पिता रामपाल देख नहीं सके क्योंकि उनकी दुकान में टीवी या फिर मोबाइल नहीं है। कुलदीप का एक भाई और बहन भी है जो उन्हें टीवी पर खेलता देख काफी खुश थे। लेकिन कुलदीप के पिता सलून के चक्कर में अपने बेटे का डेब्यू मैच नहीं देख सके। रविवार होने की वजह से ग्राहक भी ज्यादा थे इसलिए कुलदीप के पिता ने सलून में ही रहने का फैसला किया।

मैच के बाद कुलदीप के पिता ने दैनिक भास्कर से कहा, “मैं तो उसका मैच ही नहीं देख पाया। दुकान में मेरे पास TV और मोबाइल नहीं है। इसलिए मैच नहीं देख पाता हूं। वैसे भी जब मैच आ रहा था, तब मैं दुकान में था। अब घर जाकर बच्चों से उसका प्रदर्शन जानूंगा। लेकिन यह मेरे लिए गर्व की बात है कि बेटा इतनी छोटी जगह से निकलकर भारतीय टीम में खेल रहा है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *