खराब फॉर्म के बावजूद वर्ल्ड कप 2023 खेलेंगे सूर्यकुमार यादव, सूर्या को खिलाना मेरी मजबूरी…” रोहित के बयान ने मचाई सनसनी

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

सूर्यकुमार यादव का प्रदर्शन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दोनों ही एकदिवसीय मुकाबले में बेहद निराशाजनक रहा है। सूर्या को श्रेयस अय्यर के चोटिल होने के बाद कंगारू चटीम के विरूध्द लगातार मौके दिए जा रहे हैं। लेकिन, वह है कि इन मौको को ठीक ढ़ंग से भुना नहीं पा रहे है। मुंबई और विशाखापट्टनम में खेले गए दोनों ही मुकबलो में सूर्या बिना खाता खोले ही शून्य पर आउट हुए। इसके बाद उनकी टीम में जगह को लेकर लगातार उन्हें आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने सूर्या की तरफदारी करते हुए एक बड़ा बयान दिया है।

सूर्या को मौका देना Rohit Sharma की मजबूरी

भारतीय टीम के टी20 फॉर्मेट के नंबर-1 बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव अपनी शानदार फॉर्म को वनडे क्रिकेट में नहीं दिखा पा रहे है। वह एकदिवसीय क्रिकेट की 16 पारियो में से किसी में भी एक भी अर्धशतकीय पारी नहीं खेल पाए है। ऐसे में उनका सर्वाधिक स्कोर भी 34 रन है। जो कि न्यूजीलैंड के खिलाफ आया था। वहीं ऑस्ट्रेलिया से मिली 10 विकेट से करारी शिकस्त के बाद हिटमैन (Rohit Sharma) ने कहा कि,

“हमें श्रेयस अय्यर की वापसी के बारे में पता नहीं है। उसकी जगह खाली है तो हम सूर्य को ही उतारेंगे। उसने सीमित ओवरों में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है और मैं कई बार कह चुका हूं कि जिसमें क्षमता है, उसे मौके मिलेंगे।’ उसे पता है कि उसे वनडे में भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा। मैं कह चुका कि क्षमतावान खिलाड़ियों को यह कभी नहीं लगना चाहिये कि उन्हें भरपूर मौके नहीं दिये गए।”

लगातार देना होगा सूर्या को मौका- Rohit Sharma

सूर्यकुमार यादव का हालिया एकदिवसीय फॉर्म बेहद खराब चल रहा है। वह किसी भी मैच में खाता भी नहीं खोल पा रहे है जिसका खामियाजा टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हार कर चुकाना पड़ा है। वह पहले और दोनों ही मैच में मिचेल स्टार्क की गेंद पर एलबीडब्लू आउट होकर पवेलियन लौटे। उनके आउट होने का तरीका दोनों ही मैच में एक जैसा था। इस पर रोहित (Rohit Sharma) ने कहा,

“पिछले दो मैचों में वह जल्दी आउट हो गया लेकिन उसे सात आठ या दस मैच लगातार देने होंगे ताकि वह अधिक सहज हो सके। अभी उसे किसी के चोटिल होने या उपलब्ध नहीं होने पर मौका मिल रहा है। टीम प्रबंधन का काम खिलाड़ियों को मौके देना है और जब लगे कि वह सहज नहीं है या रन नहीं बन रहे, तब इसके बारे में सोचेंगे। अभी हम उस रास्ते पर नहीं हैं।”

गौरतलब है कि सूर्या ने एकदिवसीय मैचो की 9 पारियो में उनके बल्ले से केवल 120 रन ही आए है। इस दौरान उनके बल्ले से एक भी अर्धशतकीय पारी नहीं आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *