पहली बार दोहरा शतक लगाने वाले बने समर्थ व्यास,सचिन और रोहित जैसे स्टार को छोड़ा पीछे ,20 चौके और 9 छक्के बनाकर मचाया कोहराम

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

भारत की घरेलू वनडे टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) की शुरुआत हो गई है। 12 नवंबर यानी शनिवार को टूर्नामेंट के पहले दिन के मुकाबले हुए। रविवार को भी 18 मैच खेले गए। इसमें सौराष्ट्र के युवा बल्लेबाज समर्थ व्यास (Samarth Vyas) ने ऐतिहासिक पारी खेली। उन्होंने इस टूर्नामेंट में दोहरा शतक जड़ दिया है। दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी ग्राउंड पर सौराष्ट्र की टक्कर मणिपुर से हुई।

130 गेंदों पर दोहरा शतक

सौराष्ट्र के लिए सलामी बल्लेबाजी करने उतरे समर्थ व्यास ने शुरुआत से ही गेंदबाजों पर अटैक किया। 130 गेंदों पर उन्होंने दोहरा शतक पूरा किया। उनकी पारी में 20 चौके और 9 छक्के शामिल थे। अपनी टीम की पारी के 45वें ओवर में ही समर्थ 200 रन बनाकर आउट हो गए। 2015 में लिस्ट ए डेब्यू करने वाले समर्थ मध्यक्रम के बल्लेबाज थे। लेकिन फिर टीम मैनेजमेंट ने उन्हें टॉप ऑर्डर में भेजने का फैसला किया। हाल ही में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में भी उन्होंने 177 की स्ट्राइक रेट से 314 रन बनाए थे।

सबसे तेज दोहरा शतक

समर्थ व्यास विजय हजारे ट्रॉफी में दोहरा शतक लगाने वाले 5वें बल्लेबाज और ओवरऑल 9वें भारतीय बल्लेबाज हैं। हालांकि वह सबसे तेज दोहरा शतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। सचिन तेंदुलकर ने 2010 में दोहरा शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने थे। उन्होंने 147 गेंदों पर दोहरा शतक जड़ा था। उनके बाद वीरेंद्र सहवाग और रोहित शर्मा भी इंटरनेशनल मैच में दोहरा शतक लगा चुके हैं। शिखर धवन ने इंडिया ए के लिए 248 रनों की पारी खेली थी।

विजय हजारे ट्रॉफी में उत्तराखंड के करणवीर कौशल दोहरा शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने। उनके पास संजू सैमसन, यशस्वी जायसवाल और पृथ्वी शॉ के बल्ले से भी दोहरे शतक निकल चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *