लगातार 2 मैचों में मिली हार बर्दास्त नहीं कर सके रोहित शर्मा, निकल पड़े आंसू, सीधे तौर पर इन्हें माना हार का जिम्मेदार

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

श्रीलंका ने भारत को Asia Cup 2022 में छह विकेट से हरा दिया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 20 ओवर में आठ विकेट गंवाकर 173 रन बनाए थे। रोहित शर्मा ने 72 रन की पारी खेली।

जवाब में श्रीलंका ने 19.5 ओवर में चार विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। इस हार के साथ भारतीय टीम पर एशिया कप से बाहर होने का खतरा मंडराने लगा है। भारतीय टीम सुपर फोर राउंड में लगातार दो मैच हार चुकी है।

श्रीलंका से पहले पाकिस्तान ने भारत को पांच विकेट से हराया था। भारत का भाग्य अब दूसरी टीमों के नतीजों पर निर्भर होगा। वहीं, श्रीलंका की टीम ने फाइनल के लिए अपना दावा मजबूत कर लिया है। उसने लगातार दो मैच जीते हैं। भारत से पहले श्रीलंका ने सुपर-4 में अफगानिस्तान को हराया था।

10-15 रन कम रह गए – रोहित शर्मा

भारत के हारने के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने बताया कि वह जिस तरह के प्लान सोच रहे थे, वह सही से नही हो पाए जिसकी वजह से वह मैच हार बैठे। उन्होंने मैच के बाद कहा,

“हम बस गलत पक्ष पर समाप्त हुए, बस इतना ही कह सकता हूं। हम अपनी पारी के पहले हाफ का फायदा उठा सकते थे। हम 10-15 रन कम हो थे। दूसरा हाफ हमारे लिए अच्छा नहीं रहा। जो लोग बीच में आउट हुए थे वे सीख सकते हैं कि कौन से शॉट खेले जा सकते हैं। ये बातें हो सकती हैं। इस तरह के नुकसान से हम समझेंगे कि एक टीम के रूप में क्या काम करता है। गेंद के साथ, शुरुआत को देखते हुए इसे अंतिम ओवर तक ले जाना एक अच्छा प्रयास था। स्पिनरों ने आक्रामक गेंदबाजी की और बीच के ओवरों में विकेट हासिल किए, लेकिन श्रीलंका ने अच्छा खेला। हमने सोचा कि बड़ी बाउंड्री के साथ हम स्पिनरों का अच्छा इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन योजना उस तरह नहीं काम आई। उनके दाएं हाथ के बल्लेबाजों ने काफी देर तक बल्लेबाजी की। मैंने हुड्डा को लाने और लंबी सीमाओं का उपयोग करने के बारे में सोचा। लेकिन मैं तीनों तेज गेंदबाजों से खुश था।”

आवेश बीमार होने की वजह से नही थे पूरे फिट – रोहित

रोहित शर्मा ने आगे कहा,

“दुर्भाग्य से आवेश फिटनेस टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया। उसने अच्छी प्रतिक्रिया नहीं दी क्योंकि वह काफी बीमार था। आदर्श रूप से हम जो संयोजन खेलेंगे वह चार तेज गेंदबाजों का होगा, लेकिन तीन तेज गेंदबाज कुछ ऐसे थे जिन्हें हम विश्व कप से पहले आजमाना चाहते थे। हमें एक टीम के रूप में जवाब खोजने की जरूरत है, जैसे कि हम पांच गेंदबाजों के साथ कहां हैं। अब हम जानते हैं कि हम इस संयोजन के साथ कहां खड़े हैं। कोई दीर्घकालिक चिंता नहीं है, हमने बैक टू बैक केवल दो गेम गंवाए हैं। पिछले विश्व कप के बाद से हमने ज्यादा मैच नहीं गंवाए हैं। ये खेल हमें सिखाएंगे। हम एशिया कप में खुद पर दबाव बनाना चाहते थे। हम अभी भी जवाब ढूंढ रहे हैं। ये एक के बाद एक दो करीबी खेल थे। डेथ पर गेंदबाजी करने और जिस तरह से उन्होंने गेंदबाजी की उसके लिए अर्शदीप को बहुत श्रेय देना होगा। चहल और भुवी वरिष्ठ पेशेवर हैं और कुछ समय से ऐसा कर रहे हैं। मुझे युवाओं से जवाब तलाशने की जरूरत है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *