ताज़ा खबर : BCCI की जिद पर इस देश को सौंपी गई मेजबानी, एशिया कप 2023 टूर्नामेंट से बाहर हुई पाकिस्तानी टीम

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

BCCI की जिद पर इस देश को सौंपी गई मेजबानी, एशिया कप 2023 टूर्नामेंट से बाहर हुई पाकिस्तानी टीम  :– Asia Cup 2023) की मेजबानी को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा है। इस साल टूर्नामेंट की होस्टिंग की जिम्मेदारी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को दी गई। लेकिन राजनीतिक रिश्ते खराब होने की वजह से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने पाकिस्तान दौरे के लिए मना कर दिया है। इसी बीच अब इस मुद्दे ने एक नया मोड़ ले लिया है। अब बिना पाकिस्तान टीम के ही इस टूर्नामेंट को संपन्न कराने का फैसला किया है। क्या है इससे जुड़ी पूरी खबर आइये जानते हैं।

पाकिस्तान टीम के बिना ACC आयोजित करेगा एशिया कप 2023

दरअसल, हाल ही में अहमदाबाद में प्रमुख सदस्य राष्ट्रों के बीच एक अनौपचारिक चर्चा के दौरान भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के सचिव और एशियाई क्रिकेट परिषद के अध्यक्ष जय ने कहा कि वह एशिया कप 2023 को केवल एक ही स्थान श्रीलंका पर कराना चाहते हैं। साथ ही उन्होंने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नज़म सेठी द्वारा दिया गए ‘हाइब्रिड मॉडल’ को स्वीकार नहीं करेंगे।

ऐसे में एसीसी ने बड़ा फैसले लेते हुए एशिया कप की तैयारियां पाकिस्तान के बिना ही शुरू कर दी है। सूत्रों ने द टेलीग्राफ को बताया कि पीसीबी को ACC अगली बैठक में स्पष्ट रूप से बता देगा कि सभी भाग लेने वाले देश श्रीलंका में खेलने के लिए सहमत हो गए हैं। ऐसे में पाकिस्तान को इस वेन्यू में खेलने या अभियान से बाहर होने का फैसला करना होगा।

इस टीम को मिल सकता है एशिया कप 2023 में शामिल होने का मौका

अगर पाकिस्तान एशिया कप 2023 से निकल जाने का फैसला कर लेता है तो भारत, श्रीलंका, बांग्लादेश और अफगानिस्तान चार ही टीमें को बीच भिड़ंत होगी। हालांकि, खबर है कि नेपाल को पांचवी टीम के तौर पर शामिल किया जा सकता है। लेकिन अब तक इसको लेकर कोई भी आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है। बता दें कि पीसीबी ने एशिया कप के लिए एक ‘हाइब्रिड मॉडल’ की दलील की थी। जिसमें लगभग पांच मैच पाकिस्तान और बाकी के अन्य मैच यूएई में खेले जाए। मगर, सितंबर में वहां अत्यधिक गर्मी होने की वजह से बीसीसीआई ने इससे इनकार कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *