बहन की मौत से खोया ‘होश’, फिर गेंदबाजों को किया खामोश, अब की पाक टीम में वापसी

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

पाकिस्तान ने अपनी टी20 वर्ल्ड कप की टीम में एक ऐसा नाम शामिल किया है, जिसने अभी तक एक भी टी20 मैच नहीं खेला. यहीं नहीं लंबे समय से पाकिस्तान टीम से बाहर भी है. इसके बावजूद वर्ल्ड कप के लिए पाकिस्तान ने मौका दिया. ये खिलाड़ी हैं शान मसूद. लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि मसूद की किस तरह वापसी हुई, जबकि उन्होंने 2019 के बाद से ही पाकिस्तान के लिए व्हाइट बॉल क्रिकेट नहीं खेला. दरअसल उनकी वापसी के पीछे वजह उनका बदला अंदाज है, जो बहन की मौत के बाद नजर आया.

बहन की मौत से टूट गए थे मसूद

पिछले साल शान मसूद ने अपनी जिंदगी के सबसे करीबी शख्स को खो दिया था और वो थीं उनकी बहन. बहन से जाने से मसूद बुरी तरह टूट गए. अपने होश खो बैठे थे, मगर इस हादसे ने जिंदगी को लेकर उनका नजरिया ही बदल दिया. इस हादसे ने उन्हें जिंदगी की कीमत समझा दी और अपने खेल को एंजॉय करने लगे. मसूद इस दर्द से बाहर निकले तो मैदान पर गेंदबाजों को खामोश करने लगे. बहन की मौत के बाद मैदान पर वापसी करने बाद उनके बल्ले से आग उगली. उन्हें रोकना हर गेंदबाज के लिए मुश्किल हो गया.

वापसी की उम्मीद छोड़ी

पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच 20 सितंबर से शुरू होने वाले 7 मैचों की टी20 सीरीज से पहले कराची के नेशनल स्टेडियम में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने अपनी वापसी पर बात की. मसूद ने कहा कि मैंने सोचा था कि शायद मैं कभी पाकिस्तान के लिए नहीं खेल पाउंगा, मगर हमें ज्यादा आगे देखने की जरूरत नहीं होती, तब मेरी बहन के साथ क्या हुआ. पाकिस्तानी बल्लेबाज ने कहा कि इसके बाद मुझे महसूस हुआ कि जिंदगी क्या है और इसकी कीमत क्या है. इसके बाद मैंने हमेशा क्रिकेट का लुत्फ उठाने की कोशिश की.

काउंंटी में मचाया कोहराम

बहन की मौत के बाद मसूद ने काउंटी सीजन 2022 के लिए डर्बीशर के साथ करार किया. उन्होंने इस साल चैंपियनशिप के दूसरे राउंड में फर्स्ट क्लास क्रिकेट का अपना पहला दोहरा शतक जड़ा. मसूद ने ससेक्स के खिलाफ नाबाद 201 रन बनाए थे. इसके बाद उन्होंने एक और दोहरा शतक जड़ दिया और वो डर्बीशर के लिए फर्स्ट क्लास क्रिकेट में लगातार 2 दोहरे शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज बने. वहीं पाकिस्तान में चल रहे नेशनल टी20 कप में मसूद ने पाकिस्तान की नेशनल टीम में वापसी करने से पहले बलूचिस्तान के लिए 2 अर्धशतक जड़े.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *