पिछली बार हॉन्गकॉन्ग ने टीम इंडिया को मंगवा दिया था पानी, मुश्किलों से मिली थी जीत, जानिए कैसे हैं दोनों के आंकड़े

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

इंडिया टीम एशिया कप 2022 (ASIA CUP 2022) के दूसरे मुकाबले के लिए पूरी तरह तैयार है. इस मैच को 31 अगस्त, बुधवार को दुबई के इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा. टीम इंडिया ने एशिया कप की शुरुआत एक शानदार जीत के साथ की है. भारतीय टीम ने अपने पहले ही मैच में पाकिस्तान को 5 विकटों से हरा दिया है.

अब टीम इंडिया को दूसरा मैच हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ खेलना है. इससे पहले साल 2018 में हॉन्गकॉन्ग टीम ने भारतीय टीम को जीत के लिए पानी मगंवा दिया था.

इसी मैदान में खेला गया था मुकाबला

इससे पहले साल 2018 में भी हॉन्गकॉन्ग और टीम इंडिया ने बीच दुबई के इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में मैच खेला गया था. दोनों टीमों के बीच ये एक यादगार मैच था. तब एशिया कप वनडे प्रारूप में खेला गया था. इस मैच में हॉन्गकॉन्ग ने पहले टॉस जीतकर गेंदबाज़ी करने का फैसला किया था.

इस मैच में भारतीय टीम की तरफ से ओपनिंग की ज़िम्मेदारी संभालने आए थे रोहित शर्मा (ROHIT SHARMA) और शिखर धवन (SHIKHAR DHAWAN). रोहित शर्मा (23) ने जल्द ही अपना विकेट गवा दिया था.

धवन ने खेली थी शतकीय पारी

शिखर धवन (SHIKHAR DHAWAN) ने इस मैच में पहले अंबाती रायडू (AMBATI RAYADU) से दूसरे विकेट के लिए 116 रनों की पार्टनरशिप की थी. राडयू(60) के आउट हो जाने के बाद दिनेश कार्तिक (DINESH KARTHIK) और धवन के बीच एक अर्धशतकीय साझेदारी हुई थी.

इसके बाद धवन 127 रन बनाकर आउट हो गए थे. धवन के आउट होने के बाद भारतीय टीम ज़्यादा रन नहीं बना पाई थी और 50 ओवरों में 7 विकेट के साथ 285 रन बोर्ड पर लगा पाई थी.

हॉन्गकॉन्ग ने मंगवा दिया था पानी

स्कोर का पीछा करने उतरी हॉन्गकॉन्ग टीम ने पहले विकेट के लिए 174 रनों की शानदार पार्टनरशिप की. हॉन्गकॉन्ग की तरफ से ओपनिंग करने आए अंशुमन रथ और निजाकत खान ने अर्धशतकीय पारी खेली थी. इस पार्टनरशिप के लिए अंशुमन रथ ने 97 गेंदों पर 73 रन बानए थे. वहीं, निजाकत खान ने 111 गेंदो पर 92 रन बनाए थे.

इन गेंदबाज़ों ने इंडिया की कराई थी वापसी

चाइनामैन गेंदबाज़ कुलदीप यादव ने 35वें ओवर की पहली ही गेंद पर अंशुमन को चलता किया था. इसके बाद खलील अहमद ने 2 ओवरों के बाद निजाकत खान को पवेलियन भेज दिया था.

ओपनिंग जोड़ी के पवेलियन जाने के बाद हॉन्गकॉन्ग टीम बुरी तरह लड़खड़ा गई थी और 50 ओवरों में 8 विकेट गवाकर 259 रन ही बना पाई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *