भारत बाहर, पाकिस्तान होगा अंदर? साउथ अफ्रीका से हार के बाद उलझा सेमीफाइनल का खेल

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

साउथ अफ्रीका ने पर्थ में खेले मुकाबले में भारत को हरा दिया. लेकिन, सच तो ये है कि ये मुकाबला भारत हारा नहीं है, बल्कि, इस हार के जरिए उसने अपने लिए T20 वर्ल्ड कप 2022 से बाहर होने का रास्ता तैयार कर लिया है. साउथ अफ्रीका के खिलाफ मैच जीतना सिर्फ भारतीय टीम के लिए जरूरी नहीं था. बल्कि, ऐसा पाकिस्तान के हित में भी होता. लेकिन, ऐसा नहीं हुआ. अब नौबत ये है कि भारत पर टूर्नामेंट से बाहर होने का खतरा मंडराने लगा है.

अब आप सोच रहे होंगे कि कल तक तो भारत के साथ सब ठीक था. फिर अचानक साउथ अफ्रीका से मिली सिर्फ एक मैच की हार के बाद ऐसा क्य़ा हुआ? तो जनाब इसीलिए तो क्रिकेट को अनिश्चिताओं का खेल कहते हैं. यहां बाजी पलटने को एक मैच का नतीजा भी काफी होता है. और, वैसा ही कुछ टीम इंडिया के साथ भी होता दिख सकता है. हालांकि हम ये बिल्कुल भी नहीं कह रहे कि भारत क्वालिफाई नहीं कर सकता. कर सकता है लेकिन साथ ही उसके सेमीफाइनल की रेस से बाहर होने के आसार भी बने रहेंगे.

भारत के क्वालिफाई करने के आसान रास्ते

पहले जरा ये जान लीजिए कि भारतीय टीम टूर्नामेंट के सेमीफाइनल राउंड के लिए क्वालिफाई कैसे कर सकती है. इसका सबसे आसान तरीका ये है कि टीम इंडिया अब अपने बाकी बचे दो मुकाबले जीत ले. यानी एक वो जो 2 नवंबर को बांग्लादेश से खेलना है. और, दूसरा वो जो 6 नवंबर को जिम्बाब्वे के खिलाफ खेलना है. इन दोनों मैचों को जीतने के बाद उसके 8 अंक हो जाएंगे और वो बड़ी आसानी से सेमीफाइनल में जा सकता है.

ऐसा हुआ तो कट सकता है भारत का पत्ता

लेकिन, अगर वो बांग्लादेश से जीत गया और जिम्बाब्वे से हार गया तो फिर जिम्बाब्वे और साउथ अफ्रीका दोनों के पास 7 और उससे अधिक अंक हासिल करने का मौका रहेगा. लेकिन अगर भारत जिम्बाब्वे से जीतता है और बांग्लादेश से हारता है तो फिर सीधे-सीधे बांग्लादेश और साउथ अफ्रीका सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई कर जाएंगे.

इसके अलावा इस बात का भी ख्याल भारत को रखना होगा कि मौसम मेहरबान रहे. दरअसल, 2 नवंबर को एडिलेड में 70 फीसद बारिश की संभावना है. ऐसे में अगर भारत-बांग्लादेश मैच धुला तो नुकसान टीम इंडिया को उठाना पड़ सकता है.

बात रनरेट की आई तो पाकिस्तान के लिए बनेगा मौका

जहां तक पाकिस्तान के सेमीफाइनल में जाने की बात है तो वो भारत पर साउथ अफ्रीका की जीत के बाद प्रभावित हुई है. पाकिस्तान अब अपने सभी मैच जीतता है तो भी उसके 6 अंक होंगे. वहीं साउथ अफ्रीका के 7 अंक होंगे, अगर वो नेदरलैंड्स को हराता है.

भारत अगर अपने बाकी बचे 2 मैचों में एक हारता है तो फिर मामला नेट रनरेट पर भी आकर फंसेगा. उदाहरण के लिए, पाकिस्तान अपने बचे हुए दोनों मुकाबले जीत गया और भारत बांग्लादेश से हार गया, जो कि जिम्बाब्वे को हरा चुका है, तो उस सूरत में 3 एशियाई देशों के 6 अंक होंगे और ये तीनों एक पोजीशन के लिए लड़ रही होंगी. ऐसे में पाकिस्तान के लिए उसका 0.765 का रनरेट बड़ा फैक्टर होगा. और, भारत फिर सेमीफाइनल की रेस से बाहर हो जाएगा.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *