विश्वकप के लिए नहीं मिला मौका तो पहुंचा भारत, 17 गेंद में ठोका 86 रन, छक्कों की लगाई बौछाड, बने पहले ऐसे बल्लेबाज : video

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

आप तो जानते ही होंगे कि कुछ दिनों बाद टी20 विश्वकप शुरु होने जा रहा है। ऐसे में भारत, पाकिस्तान, वेस्टइंडीज और अफगानिस्तान जैसी टीमों ने अपने 15 सदस्य टीम की घोषणा कर दी है।

लेकिन आज हम आप को इस आर्टिकल में एक ऐसे विदेशी क्रिकेटर के बारे में बताने जा रहे है, जिसे अपने देश की टीम में मौका तो नहीं मिला। लेकिन उस खिलाडी ने धमाकेदार पारी खेलकर अपने देश के क्रिकेट बॉर्ड को एकबार सोचने पर मजबूर कर दिया है।

इंडिया कैपिटल्स के इस खिलाडी ने खेली तूफानी पारी

आप तो जानते ही भारत में इन दिनों लीजेंड्स लीग क्रिकेट 2022 चल रही है। इस टूर्नामेंट का पहला मुकाबला इंडिया कैपिटल्स और गुजरात जायंट्स के बीच ईडन गार्डन पर खेला गया। जहां गुजरात कैपिटल्स को तीन विकेट से जीत मिली। इस जीत के साथ गुजरात की टीम फिलहाल पहले स्थान पर मौजूद है।

एश्ले नर्स ने तूफानी 17 गेंदो में ठोके 86 रन

बता दें कि इस मुकाबले के दौरान एश्ले नर्स ने 8 चौके और 9 लंबे छक्के लगाए। इस पारी में उन्होंने 8 चौके की मदद से 32 और 9 गगनचुंबी छक्के की मदद से 54 रम बनाए। नर्स के अगर चौके औऱ छक्के को जोड दे तो उन्होंने मात्र 17 गेंदो में 86 रन बना दिए। इसकी बदौलत इंडिया कैपिटल्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 179 रन बना दिए।

नर्स ने रच दिया इतिहास

जानकारी के लिए बता दें कि एश्ले नर्स को जब बल्लेबाजी करने नंबर 6 पर भेजा था। जिसके बाद क्रीज पर आते ही नर्स ने ताबडतोड खेलना शुरु कर दिया। इस तरह से उन्होंने नंबर 6 पर आकर शतक जडते हुए टी20 क्रिकेट में इतिहास बना दिया। साथ ही साथ नंबर 6 पर आने के बाद 9 लंबे छक्के जडने का भी रिकॉर्ड उनके नाम पर दर्ज हो गया।

तूफानी बल्लेबाजी के बाद भी टी20 विश्वकप के लिए टीम में नहीं मिली जगह

आप को बता दें कि एश्ले नर्स वेस्टइंडीज के स्पिनर है। उन्होंने अपने देश के लिए 54 वनडे वहीं 13 टी20 खेले है। जिस में उन्होंने वनड में 49 वहीं टी20 में 8 विकेट चटकाई है। लेकिन इसके बावजूद वेस्टइंडीज क्रिकेट बॉर्ड उन्हें अपनी टीम में नहीं लिया है।

बता दें कि एश्ले नर्स ने अपना अंतिम इंटरनेशनल मैच साल 2019 में खेला था। लेकिन फिलहाल उनकी तूफानी बल्लेबाजी ने ये साबित जरुर कर दिया है कि वेस्टइंडीज क्रिकेट बॉर्ड ने उन्हें अपनी टीम में शामिल ना करके कितनी बडी गलती की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *