370 गेंदों तक विकेट को तरसा भारत, स्मिथ-हेड ने 6 घंटे तक रुलाया, पहले ही दिन टीम इंडिया का डब्बा गोल

sports क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

लंदन के द ओवल ग्राउंड पर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का दूसरा चक्र जारी है। जहां रोहित शर्मा की अगुवाई में भारतीय क्रिकेट टीम ऑस्ट्रेलिया का सामना कर रही है। टॉस जीतकर रोहित शर्मा ने पहले बल्लेबाजी के लिए पैट कमिंस की टीम को मैदान पर बुलाया। जिसके बाद टीम ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक 3 विकेट के नुकसान पर 327 रन का स्कोर खड़ा कर लिया। क्रीज़ पर स्टीव स्मिथ और ट्रेविस हेड मौजूद है।

ऑस्ट्रेलिया को लगा पहला झटका

टॉस गंवाकर पहले बल्लेबाजी करने आई ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम की शुरुआत कुछ खास नहीं थी। दो रन के स्कोर पर टीम को पहला झटका लगा। मोहम्मद सिराज ने उस्मान ख्वाजा को विकेटकीपर बल्लेबाज केएस भरत के हाथों आउट कराया। उस्मान ख्वाजा बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। चार ओवर के बाद स्कोर 4/1।

मार्नस लाबुशेन-डेविड वॉर्नर की अर्धशतकीय साझेदारी

मार्नस लाबुशेन और डेविड वॉर्नर के बीच दूसरे विकेट के लिए 69 रन की साझेदारी की। लेकिन लंच ब्रेक होने से पहले शार्दुल ठाकुर ने डेविड वॉर्नर को आउट किया और इस पार्ट्नर्शिप का अंत किया। डेविड वॉर्नर ने 60 गेंद में आठ चौके जड़ते हुए 43 रन बनाए। 23 ओवर के बाद स्कोर 73/2।

लंच तक ऑस्ट्रेलिया ने बनाए 70 से ज्यादा रन

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल मैच के पहले दिन का लंच होने तक ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने दो विकेट गंवाकर 73 रन स्कोरबोर्ड पर लगाए। पहले सत्र में उस्मान ख्वाजा (0) और डेविड वॉर्नर (43) का विकेट गिरा। भारत के लिए मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर ने एक-एक सफलता हासिल की। इस दौरान क्रीज़ पर बल्लेबाजी के लिए स्टीव स्मिथ और मार्नस लाबुशेन मौजूद थे।

मार्नस लाबुशेन की पारी का हुआ अंत

लंच के बाद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम को दूसरा झटका मार्नस लाबुश के रूप में लगा। मोहम्मद शमी ने उन्हें क्लीन बोल्ड कर पवेलियन का रास्ता दिखाया। मार्नस लाबुशेन ने 62 गेंदों पर 26 रन बनाए। जिसमें तीन चौके भी शामिल है।

ट्रेविस हेड ने झड़ा अर्धशतक

ट्रेविस हेड ने धमाकेदार बल्लेबाजी कर अपने टेस्ट करियर का 14वां अर्धशतक झड़ा। 60 गेंदों पर उन्होंने पचास रन पूरे किए। इसके अलावा उन्होंने स्टीव स्मिथ के साथ चौथी विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी भी की।

विकेट के लिए भारतीय टीम

मार्नस लबुशेन के आउट हो जाने के बाद भारतीय गेंदबाज दूसरे सत्र के दौरान विकेट के लिए तरसे। सेकंड सेशन में ट्रेविस हेड ने 60 गेंदों पर अपने टेस्ट करियर का 14वां अर्धशतक लगाया और 60 रन बनाए। दूसरी तरफ स्टीव स्मिथ के खाते में 33 रन जमा हुए। दोनों खिलाड़ियों के बीच 94 रन की नाबाद साझेदारी भी हुई। इस प्रदर्शन के साथ ऑस्ट्रेलिया ने टी ब्रेक तक तीन विकेट के नुकसान पर 170 रन बना लिए। ऐसे में भारतीय टीम और फैंस को रविचंद्रन अश्विन की कमी खली, जोकि इस मैच में प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं है।

ट्रेविस हेड ने रचा इतिहास

ट्रेविस हेड ने विस्फोटक बल्लेबाजी कर ट्रेविस हेड ने 106 गेंदों पर अपने टेस्ट क्रिकेट करियर का छठा शतक जड़ा। वह वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के इतिहास में सौ रन पूरे करने वाली पहले बल्लेबाज बने। 2021 में हुए फाइनल के दौरान कोई भी खिलाड़ी तीन अंक का आंकड़ा नहीं छू सका था।

ऑस्ट्रेलिया का शानदार प्रदर्शन

टॉस गंवाकर पहले बल्लेबाजी करने आई ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के बल्लेबाज स्टीव स्मिथ और ट्रेविस हेड ने पहले दिन शानदार प्रदर्शन दिखाया। दोनों ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक 251 रन की साझेदारी की। जिसकी मदद से ऑस्ट्रेलिया स्कोरबोर्ड पर तीन विकेट के नुकसान पर 327 रन लगा सकी। पहले दिन ट्रेविस हेड 146 रन और स्टीव स्मिथ 95 रन पर नाबाद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *