धोखाधड़ी में पिता को जेल, रहा परेशान, अब 10 छक्के, 30 चौके उड़ाकर ठोके 266 रन

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

जिंदगी में कभी उतार तो कभी चढ़ाव. कभी धूप तो कभी छांव. कुछ ऐसी ही कहानी रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में इंडिया लेजेंड्स के हीरो रहे नमन ओझा की भी है.

नमन ओझा ने RSWS के फाइनल में 71 गेंदों पर नाबाद 108 रन ठोके और फाइनल मैच के हीरो बने. उनकी इस पारी में 15 चौके और 2 छक्के शामिल रहे. इससे पहले उन्होंने टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में भी अर्धशतक जड़ा था.

फाइनल में खेली शतकीय पारी के बाद नमन ओझा ने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा 266 रन बनाए. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 137 से ऊपर का रहा जबकि उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में 10 छक्के और 30 चौके उड़ाए.

नमन ओझा के जीवन में तीन महीने पहले भूचाल आ गया था, जब उनके पिता पर सवा सौ करोड़ रुपये गबन का आरोप लगा था और जिसके बदले उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था. नमन ओझा के पिता के गबन से जुड़ा ये मामला इस साल जून का है. उस दौरा भारतीय क्रिकेटर के पिता विनय ओझा पर धोखाधड़ी और दूसरी धाराओं में केस दर्ज हुए थे.

बहरहाल, जीवन में आए उस भूचाल के 3 महीने बाद बेटे नमन ओझा ने क्रिकेट फील्ड पर उतरकर जबरदस्त प्रदर्शन किया. क्रिकेट से तो उन्होंने संन्यास ले लिया पर दिग्गजों की लीग रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में वो अपनी टीम इंडिया लेजेंड्स के हीरो रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *