56 मैच में 23 का औसत और 126 का स्ट्राइक रेट, क्या टीम इंडिया को टी-20 में ऋषभ पंत की जगह अन्य विकल्प को आजमाना चाहिए

sports आईपीएल न्यूज़ क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

टेस्ट क्रिकेट में टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत का रिकॉर्ड शानदार है। वनडे और टी-20 में वह इस तरह का प्रदर्शन करने में वह अबतक असफल रहे हैं। एशिया कप 2022 में रविवार को पाकिस्तान के खिलाफ सुपर-4 के मैच में वह गैर-जिम्मेदराना शॉट लगाकर आउट हो गए। उनके इस शॉट पर कप्तान रोहित शर्मा भी भड़क गए। उन्हें ड्रेसिंग रूम में बाएं हाथ के इस बल्लेबाज को समझाते देखा गया।

पाकिस्तान के खिलाफ ग्रुप मैच में ऋषभ पंत की जगह दिनेश कार्तिक को प्लेइंग 11 में मौका मिला। हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ मैच में हार्दिक पांड्या को आराम दिया गया और पंत की प्लेइंग 11 में एंट्री हुई। सुपर-4 में पाकिस्तान के खिलाफ उन्हें मौका मिला क्योंकि रविंद्र जडेजा चोटिल होने के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए। टीम को बाएं हाथ के प्लेयर की जरूरत थी ऐसे में कार्तिक की जगह उन्हें मौका मिला।

पंत ने इस मैच में 2 चौकों की मदद से 12 गेंदों पर 14 रन बनाए। शादाब खान की गेंद पर रिवर्स स्वीप खेलने के चक्कर में आउट हो गए। बाएं हाथ के इस विकेटकीपर बल्लेबाज को लापरवाही भारी पड़ सकती है। इसका कारण है कि टीम इंडिया के पास विकेटकीपिंग के ऐसे विकल्प मौजूद हैं, जिनके आंकड़े उनसे बेहतर हैं। फिर चाहे दिनेश कार्तिक हों या इशान किशन दोनों का औसत और स्ट्राइक इनसे काफी बेहतर है। इसके अलावा केएल राहुल भी एक विकल्प हैं।

ऋषभ पंत के टी-20 करियर की बात करें तो 56 मैचों की 49 पारियों में उन्होंने 23.61 की औसत से 897 रन बनाए हैं। उनका स्ट्राइक रेट 126.34 का रहा है। इस दौरान उन्होंने 3 अर्धशतक लगाए हैं। 65 उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। वहीं दिनेश कार्तिक ने 49 मैचों की 40 पारियों में 28.19 की औसत से 592 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 139.95 का रहा है। वह केवल एक अर्धशतक ही जमा पाए हैं और 55 उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर है, लेकिन उनकी फिनिशिंग की काबिलियत पर किसी को शक नहीं है।

आईपीएल 2022 के बाद में शानदार प्रदर्शन के बाद टीम इंडिया में वापसी हुई। इसके बाद से उन्होंने कई बार टीम इंडिया के लिए अंत के ओवरों मे महत्वपूर्ण योगदान दिया है। पाकिस्तान के खिलाफ टीम इंडिया एक समय 200 से ऊपर का स्कोर खड़ा करती दिख रही थी, लेकिन अंत में जल्दी-जल्दी कुछ विकेट गंवाने के बाद ऐसा नहीं हो सका। कार्तिक होते तो ऐसा हो सकता था।

इशान किशन की बात करें तो वह अबतक बौतर ओपनर खेले हैं। उन्होंने 19 मैचों की 19 पारियों में 30.17 औसत से 543 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 131.16 का रहा है। वह 4 अर्धशतक जड़ चुके हैं और 89 रन उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। केएल राहुल और रोहित शर्मा के कारण एशिया कप 2022 में वह नहीं चुने गए, लेकिन उनके आंकड़े को देखते हुए ज्यादा समय टीम से बाहर नहीं रखा जा सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *