पाकिस्तान में ही होगा Asia Cup 2023, फिर टीम इंडिया कैसे खेलेगी अपने मैच?

sports क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

पिछले करीब 6 महीनों से चला आ रहा गतिरोध सुलझने की कगार पर पहुंचता दिख रहा है. विश्व क्रिकेट की दो ताकतें और दो पड़ोसी- भारत और पाकिस्तान, के बीच एशिया कप के आयोजन को लेकर चल रहा विवाद अपने अंजाम की ओर पहुंचता दिख रहा है. एक ऐसा अंजाम, जिस पर दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड सहमत होते दिख रहे हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस साल सितंबर में होने वाले एशिया कप 2023 वनडे टूर्नामेंट की मेजबानी पाकिस्तान ही करेगा. बस फर्क ये होगा कि भारत के मैच पाकिस्तान में नहीं खेले जाएंगे.

इस साल अक्टूबर-नवंबर में भारत में होने वाले वनडे विश्व कप से ठीक पहले होने वाले इस टूर्नामेंट को लेकर पिछले साल अक्टूबर से ही विवाद चल रहा था. एशियन क्रिकेट काउंसिल के इस टूर्नामेंट की मेजबानी इस बार पाकिस्तान के पास थी, लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने टीम को भेजने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद से टूर्नामेंट के आयोजन को लेकर पशोपेश की स्थिति बनी हुई थी.

पाकिस्तान के साथ कौन होगा मेजबान?

अब खबरें आ रही है कि दोनों बोर्ड के बीच टूर्नामेंट के लिए बीच के रास्ते पर सहमति बनती दिख रही है. ईएसपीएन-क्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में ही टूर्नामेंट का आयोजन होना संभव होता दिख रहा है. ऐसा संभव इसलिए हो पाएगा क्योंकि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड और BCCI के बीच टूर्नामेंट को दो अलग-अलग वेन्यू में आयोजित कराने को लेकर एकमत की स्थिति बन रही है. रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत के मैचों का आयोजन पाकिस्तान के बजाय किसी दूसरे देश में होगा.

टूर्नामेंट का दूसरा वेन्यू कौन होगा, इस पर अभी पूरा फैसला नहीं हो पाया है. इसके लिए संयुक्त अरब अमीरात और श्रीलंका जैसे दावेदार तो हैं ही, साथ ही ओमान और सबसे चौंकाने वाले नाम के रूप में इंग्लैंड भी है. किसे ये मेजबानी मिलेगी, वो मौसम और ट्रैवल लॉजिस्टिक्स पर भी निर्भर करेगा.

रिपोर्ट में दावा किया गया है कि एशिया कप को लेकर बनी टकराव की स्थिति को खत्म करने के लिए इस प्रस्ताव पर ACC के सभी सदस्यों ने सैद्धांतिक तौर पर सहमति दर्ज कराई. पिछले सप्ताह ICC बोर्ड मीटिंग के इतर दुबई में ACC सदस्यों की बैठक में इस पर सहमति बनी. हालांकि, इस पर अंतिम फैसला अभी बाकी है. समाधान के इस रास्ते को पूरी तरह सही बनाने के लिए एक वर्किंग ग्रुप बनाया गया है, जो सभी टीमों की सहमति को ध्यान में रखते हुए ट्रैवल प्लान और लॉजिस्टिक्स की व्यवस्था देखेगा.

भारत-पाकिस्तान में 3 बार टक्कर?

टूर्नामेंट के फॉर्मेट के तहत 6 टीमें इस बार भी हिस्सा लेंगी, जिन्हें 3-3 के दो ग्रुप में बांटा गया है. इसमें भारत और पाकिस्तान फिर से एक साथ हैं, जबकि एक क्वालिफायर टीम होगी. वहीं दूसरे ग्रुप में श्रीलंका, बांग्लादेश और अफगानिस्तान हैं. दोनों ग्रुप से 2-2 टीमें सुपर-4 राउंड में पहुंचेंगी, जहां सभी टीमें एक-दूसरे से टकराएंगी. फिर दो टीमें फाइनल में पहुंचेंगी. यानी भारत और पाकिस्तान के बीच कम से कम 2 और ज्यादा से ज्यादा 3 मैच हो सकते हैं. टूर्नामेंट में कुल 13 मैच खेले जाएंगे, जिसमें कम से कम 5 मैच (सभी भारत के) पाकिस्तान से बाहर खेले जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *