ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज गंवाने के बाद कप्तान रोहित के बदले सुर, दिया बेतुका बयान ,ये विराट, हार्दिक, सूर्या की हार है…’

sports क्रिकेट-न्यूज़ टीम-न्यूज़

ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए बोर्ड पर 269 रन लगाए। जवाब में भारतीय टीम (Team India) ने शुरुआत अच्छी की। कप्तान रोहित और गिल ने पहले विकेट के लिए मिलकर 65 रन जोड़े।  भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 3 मैचों की रोमांचक वनडे सीरीज खेली गई। जिसका आखिरी मैच आज चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेला गया।

कोहली और केएल राहुल  ने कुछ देर तक क्रीज पर अच्छी साझेदारी की।लेकिन केएल फिर से एक बार फ्लॉप हो गए। कोहली भी अर्धशतक जड़ के पवेलियन लौट गए। अंत में जडेजा के आउट होने के बाद टीम की हार तय हो गई। ऑस्ट्रेलिया ने अपनी शानदार स्पिन गेंदबाजी के चलते 21 रनों से मैच जीत के सीरीज अपने नाम कर ली। हार के बाद भारतीय कप्तान रोहित शर्मा का दर्द छलका है। उन्होंने इस हार की बड़ी वजह बताई।

सीरीज हार के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने कहा,’ये सबकी हार है’

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज का आखिरी वनडे हारने के बाद सीरीज 2-1 से गँवाने के बाद भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में हार को लेके बड़ी वजह बताई। रोहित ने कहा,“मुझे नहीं लगता कि यह बहुत अधिक रन थे। दूसरे हाफ की ओर विकेट थोड़ा चुनौतीपूर्ण था। मुझे नहीं लगता कि हमने अच्छी बल्लेबाजी की। साझेदारी महत्वपूर्ण है, और हम आज ऐसा करने में विफल रहे। ये पूरी टीम की हार है। मैं किसी एक को दोषी नहीं मानता।”

बल्लेबाजी के बुरी तरह फेल होने को लेके कप्तान रोहित ने कहा,“आउट होने का तरीका सही नहीं था.. आप इन विकेटों पर पैदा हुए और पले-बढ़े हैं। कभी-कभी आपको खुद को लागू करने और खुद को एक मौका देने की जरूरत होती है। एक बल्लेबाज के लिए खेल को जारी रखना और गहराई तक ले जाना महत्वपूर्ण था।”

सीरीज में हुई सकारात्मक बातों के बारे में कहते हुए रोहित ने ऑस्ट्रेलियाई टीम की भी भरपूर तारीफ की। रोहित ने कहा कि,“हम सभी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहे थे; ऐसा नहीं हुआ। हमने जनवरी से अब तक जो नौ वनडे खेले हैं, हम उससे काफी सकारात्मक चीजें ले सकते हैं। यह सामूहिक विफलता है। पांच महीने के समय में, हम इन परिस्थितियों में खेलेंगे। आपको मिल गया है आस्ट्रेलियाई लोगों को भी श्रेय दें।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *